NEFT का फुल फॉर्म क्या है – NEFT Full Form in Hindi

नमस्कार दोस्तो, आप सभी का स्वागत है, आज के समय में अमूमन सभी के पास बैंक एकाउंट है, ऐसे में सभी लोग आज के समय मे पैसे ट्रांसफर करते है, यदि आपके पास बैंक एकाउंट है तब आपको NEFT के बारे में आईडिया होगा, यदि आप नही जानते है NEFT के बारे में तब आपको हम इस पोस्ट (NEFT Full Form in Hindi) के माध्यम से NEFT के बारे में विस्तार से बतायेंगे, तो चलिए दोस्तों हम NEFT के बारे में जानते है।

NEFT का फुल फॉर्म क्या है – NEFT Full Form in Hindi

NEFT का फुल फॉर्म National Electronic Fund Transfer (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर) होता है, तथा NEFT एक भुगतान प्रणाली होता है जो कि एक बैंक के खाते से दूसरे बैंक खाते में फंड ट्रांसफर की अनुमति प्रदान करता है, तथा आज के समय में ऑनलाइन बैंकिंग पर बढ़ते फोकस के साथ ही NEFT फंड ट्रांसफर करने का सबसे लोकप्रिय तरीकों में से एक बन गया है, चूंकि यह इलेक्ट्रॉनिक रूप से किसी भी बैंक शाखा से बैंक खाता से किसी भी व्यक्ति को फंड ट्रांसफर कर सकते है, एवं पैसे ट्रांसफर के लिए बैंक शाखा जाने की आवश्यकता नहीं पड़ता है।

NEFT प्रक्रिया क्या है?

आज के समय मे यदि कोई कस्टमर अपने बैंक खाते से यदि किसी अन्य व्यक्ति के बैंक खाते में फंड ट्रांसफर करना चाह रहा है, तब वह यह कह सकता है कि वह NEFT की प्रक्रिया के माध्यम से ऐसा कर सकता है, न कि पैसे निकालना एवं फिर इसे नकद में जमा करना में या चेक लिखकर किया जाता है, तथा आपको बता दे कि NEFT का मुख्य लाभ यह है कि आप यह किसी भी शाखा के किसी भी खाते से किसी भी स्थान पर स्थित किसी भी अन्य बैंक खाते में आप आसानी से फंड ट्रांसफर कर सकता है। आपको बता दे कि फंड भेजने वाला है तथा प्राप्त करने वाले है दोनों शाखाएँ NEFT- सक्षम होना चाहिए, तथा आप आसानी से RBI की वेबसाइट पर NEFT- सक्षम बैंक शाखाओं की लिस्ट भी देख सकते हैं और इसके साथ ही उस की पुष्टि के लिए आप अपने बैंक की कस्टमर केयर सेवा टोल फ्री में कॉल कर सकते हैं, तथा NEFT प्रणाली भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा योजना के तहत भारत से नेपाल में फंड ट्रांसफर की सुविधा भी प्रदान करता है।

NEFT के माध्यम से फंड ट्रांसफर कैसे करें

  • यदि आप NEFT के माध्यम से फंड ट्रांसफर करना चाहते है तब आपको निम्न बातों को ध्यान देना चाहिए-
  • सर्वप्रथम आपको अपने लॉगिन आईडी एवं पासवॉर्ड के साथ आप अपने ऑनलाइन बैंकिंग के लिए लॉगिन करे।
  • अब आप NEFT सेक्शन में जाये।
  • अब आपको लाभार्थी का नाम, बैंक खाता संख्या एवं IFSC कोड डालकर ऐड करें ।
  • अब आप लाभार्थी के सफलतापूर्वक ऐड हो जाने के बाद, आप NEFT ट्रांसफर शुरू कर सकते हैं, और अब आप बस भेजे जाने वाली राशि दर्ज करें और आसानी से फंड ट्रांसफर कर सकते है।

यह भी पढ़े:- IFSC का फुल फॉर्म क्या होता है और IFSC Code कैसे पता करे ?

NEFT ट्रांसफर कौन कर सकता है

आज के समय में RBI ने बहुत से बैंक के बारे में लिस्ट जारी किया है यदि आप उस बैंक के यूजर है तब आप NEFT ट्रांसफर कर सकते है। आपको बताया गया है यदि कोई भी व्यक्ति, फर्म या कॉर्पोरेट, जिसका NEFT की सुविधा प्रदान करने वाली बैंक शाखा में खाता है, वह किसी भी समय NEFT ट्रांसफर कर सकता है। आपको बता दे कि हालांकि, व्यक्ति का बैंक खाता नहीं है, तब भी वह आसानी से NEFT- सक्षम शाखा में नकद जमा कर सकता है, तथा बशर्ते उसे अपने पते, ईमेल आईडी, संपर्क नंबर एवं बैंक के बारे में सभी जानकारी प्रदान करना होता है तथा इस तरह के ट्रांसफर से आप अधिकतम राशि 50,000 रू. आसानी से कर सकते है।

NEFT ट्रांसफर लिमिट क्या है

आज के समय मे यदि आप NEFT के तहत पैसा ट्रांसफर करना चाहते है तब आप आसानी से पैसे ट्रांसफर कर सकते है, आप एक दिन में 50000 रुपये एक बार मे ट्रांसफर कर सकते है, इसमें किसी भी तरह का कोई लिमिटेशन नही है, पर आप आसानी से पैसे भेज सकते है। आज के समय मे प्रत्येक बैंक के आधार पर, प्रत्येक ट्रांसजेक्शन के लिए समय एवं क्लियेरेंस की अवधि अलग-अलग हो सकता है। इसलिए आप आसानी से NEFT के माध्यम से फंड ट्रांसफर कर सकते है।

आप NEFT सेवा के साथ और क्या कर सकते हैं?

आपको बता दे कि NEFT की सेवा का उपयोग लोन की EMI, क्रेडिट कार्ड बकाया एवं अन्य भुगतान करने के लिए भी आसानी से किया जा सकता है, तथा इसलिए NEFT की सेवा केवल व्यक्तिगत फंड ट्रांसफर तक ही सीमित नहीं है, आप इसमें किसी भी तरह का ट्रांसक्शन आसानी से कर सकते है।

NEFT का उपयोग करने के लाभ

NEFT की प्रक्रिया में सबसे पहले आपको लाभार्थी की जानकारी दर्ज करना होता है और इसके बाद आप लिस्ट से लाभार्थी को चुन सकते हैं, एवं राशि दर्ज करें तथा भेजें,  NEFT ट्रांजेक्शन के कुछ लाभों पर एक नज़र डालें जो कि आपके दैनिक ट्रांजेक्शन को सरल बना सकते हैं :

  • ट्रांजेक्शन करने के लिए किसी भी पार्टी का उपस्थित होना आवश्यक है।
  • इसमें बैंक जाने आवश्यकता नहीं पड़ता है।
  • NEFT ने किसी भी तरीके के फ्रॉड एवं चोरी या फोर्जिंग को पूरी तरह से बंद कर दिया है।
  • NEFT एक सरल प्रक्रिया है, तथा यह एक मिनट के समय के भीतर किया जा सकता है एवं इसमें किसी भी बड़ी औपचारिकता की आवश्यकता नहीं पड़ता है।
  • एक सफल ट्रांजेक्शन की पुष्टि ईमेल के माध्यम से होता है और SMS के माध्यम से आसानी से प्राप्त एवं देखी जा सकता है।
  • इंटरनेट बैंकिंग किसी भी जगह से शुरू किया जा सकता है और संचालित किया जा सकता है, और इसका अर्थ है कि एक व्यक्ति को NEFT ट्रांजेक्शन करने के लिए किसी विशेष स्थान पर उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं पड़ता है।

निष्कर्ष (NEFT Full Form in Hindi)

मैं आशा करता हु की आज के इस पोस्ट NEFT का फुल फॉर्म (NEFT Full Form in Hindi) क्या है में आपको इन सभी बातों को जानकारी चल गया होगा की NEFT Ka Full Form Kya Hota Hai और NEFT प्रक्रिया क्या है, NEFT कौन प्रयोग कर सकता है और NEFT प्रयोग करने के फायदा क्या है। अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो कमेंट और शेयर करना ना भूले। पोस्ट पढ़ने के लिए आपको धन्यवाद।

यह भी पढ़े:- एसएससी (SSC) का फुल फॉर्म क्या होता है?

Leave a Comment

error: