एमबीबीएस का फुल फॉर्म क्या है – Full Form of MBBS in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आप सभी का मेरे वेबसाइट स्वागत है। वर्तमान समय शिक्षा का स्तर बढ़ गया है, ऐसे में आज हम इस पोस्ट के माध्यम से एमबीबीएस कोर्स के बारे में बतायेंगे, यदि आप आज के समय डॉक्टर बनना चाहते है तब आपको वर्तमान में MBBS करना चाहिए, यदि आपको MBBS के बारे में जानकारी नही है तब आपको इस पोस्ट में MBBS से सम्बंधित सभी जानकारी दिया जा रहा है, इस पोस्ट में एमबीबीएस की फुल फॉर्म क्या है (Full Form MBBS in Hindi), एमबीबीएस कोर्स के लिए एलिजिबिलिटी, एमबीबीएस कोर्स के लिए उम्र कितना होना चाहिए, एवं एमबीबीएस की फुल मीनिंग के बारे में बात करेंगे, इसलिए आप इस आर्टिकल के अंत तक को ध्यान से पढ़े, तो चलिए दोस्तों हम MBBS के बारे में जानते है।

एमबीबीएस कोर्स क्या है (What is MBBS Course in Hindi)

आपको बता दे कि MBBS का पूरा नाम Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery होता है, तथा वर्तमान समय मे मेडिकल फील्ड में जो भी स्टूडेंट्स अपना करियर बनाना चाहता हैं वह 12 वी के बाद यह कोर्स कर सकता है, MBBS मोस्ट पॉपुलर कोर्स में से एक है। तथा इसके साथ ही और भी बहुत सारे कोर्स हैं जिसके माध्यम से आप मेडिकल फील्ड में अपना अच्छा करियर बना सकते हैं पर आज के समय मे एमबीबीएस का कोर्स मोस्ट पॉपुलर है और इसे पाने की चाहत सभी का रहता है।

आज के समय में बात करे इंजीनियरिंग फील्ड की तब इंजीनियरिंग फील्ड की तुलना में मेडिकल लाइन बहुत कठिन है एवं दोनों में काफी अंतर है। और एमबीबीएस मेडिकल कोर्स है यह मोस्ट रेपुटेड डिग्री में से एक है तथा एमबीबीएस अंडरग्रेजुएट अकैडमिक डिग्री है और हम इसमें मेडिसिन और सर्जरी के बारे में अध्ययन करते हैं। तथा यह डॉक्टर की डिग्री में से एक बैचलर डिग्री है जिसके पूरा होने के बाद, आप अपने नाम के साथ डॉक्टर शब्द लगाने के लायक हो जाते हैं।

एमबीबीएस का फुल फॉर्म क्या है (Full Form of MBBS in Hindi)

मेडिकल में एमबीबीएस का फुल फॉर्म Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery होता है। आज के समय में MBBS की मांग काफी बढ़ गया है, और आज के समय मे MBBS डॉक्टर बनने का सपना काफी लोगो का रहता है, और यदि आप बनना चाहते है तब आपको विशेष बातों का ध्यान रखना होगा।

एमबीबीएस कोर्स के लिए एलिजिबिलिटी (Eligibility For MBBS Course)

आपको बता दे कि MBBS कोर्स 5 वर्ष 6महीने का होता है, और इसके लिए आपको 12वी में साइंस सब्जेक्ट बायो स्ट्रीम (physics, chemistry and biology) से पढ़ाई होना जरूरी है, और 12वी में कम से कम आपका 50 प्रतिशत अंक होना चाहिए, यदि आप रिजर्व्ड कैटेगरी से आते है तब आपके मार्क्स में थोड़ा छूट मिलता है तब आपका कम से कम पैतालीस परसेंट मार्क्स होना चाहिए।

एमबीबीएस कोर्स के लिए कितना ऐज होना चाहिए (Age Required for MBBS)

वर्तमान समय मे MBBS course के लिए किसी तरह का उम्र सीमा निर्धारित नही है, आपका न्युनतम उम्र कम से कम 16 वर्ष होना चाहिए तथा अधिकतम आपकी ऐज कितना भी हो सकता है, तथा आरक्षण के आधार पर आप इसके लिए आयोजित परीक्षा को उम्र के अनुसार एटेम्पट कर सकते है, तथा अलग अलग वर्ग के लिए अलग अलग एटेम्पट की संख्या निर्धारित है जो आरक्षण के आधार पर है, इस तरह से आप अपने वर्ग के अनुसार MBBS के लिए NEET का पेपर दे सकते है।

एमबीबीएस कोर्स के लिए फीस कितना चाइये (MBBS Course Fee)

चलिए हम एमबीबीएस कोर्स के लिए फीस कितना होता है इसके बारे में जानते है, आज के समय मे इसका फीस 1 लाख से 10 लाख लगभग रहता है और यह आपके एक ईयर का फीस है जो कि कॉलेज के अनुसार रहता है। तथा इसके अलावा प्राइवेट कॉलेज की फीस अधिक भी हो सकता है, तथा वह गवर्नमेंट कॉलेज से काफी ज्यादा रहता है, यही कि 12 से 15 लाख ईयरली फीस हो सकता है।

एमबीबीएस कोर्स के एडमिशन प्रोसेस (Process for Admission in MBBS)

वर्तमान समय मे एमबीबीएस मेडिकल कोर्स में एडमिशन का प्रोसेस एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से होता है तथा इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए कई सारे मोस्ट पॉपुलर एंट्रेंस एग्जाम होता है, और जिनमें से आप किसी भी एग्जाम को देकर इस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं, आपको बता दे कि 1st नंबर में आता है NEET का एग्जाम, इसके बाद AIIMS है जो कि वर्तमान में NEET के माध्यम से सीट का आवंटन होता है, और फिर PGMER और JIPMER, फंगे और AMFC यह सारे मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम के नाम हैं जो कि पापुलर है, इसके अलावा और भी बहुत सारे एंट्रेंस एग्जाम होता हैं जिसके माध्यम स्व MBBS कोर्स में एडमिशन लेने के लिए होता है, और बहुत सारे प्राइवेट यूनिवर्सिटी एंट्रेंस एग्जाम अपने मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए कराती है और इसके माध्यम से आप एडमिशन ले सकते है।

एमबीबीएस कोर्स पूरा करने के बाद क्या कर सकते है (Jobs after completing MBBS)

आज के समय मे सबसे बड़ी चुनौती यह कि किसी भी कोर्स को करने के बाद क्या करे तब आप MBBS कोर्स कंप्लीट करने के बाद आप हॉस्पिटल्स, मेडिकल कॉलेज, एवं मेडिकल ट्रस्ट इस तरह से कई सारे एरिया है जिनमें आप वर्क कर सकते हैं। इसके साथ ही आप बायोमेडिकल कंपनीज, सेल्फ आम्रस क्लीनिक अर्थात आप स्वयं का क्लीनिक भी खोल सकते हैं, और MBBS करने के बाद आपको प्राइवेट प्रैक्टिस करने का लाइसेंस मिल जाता है, और रिसर्च इंस्टीट्यूट्स में भी आप काम कर सकते हैं, इसके साथ ही आप हेल्थ सेंटर्स में काम कर सकते हैं, एवं इसके साथ ही आप फार्मास्युटिकल एंड बायोटेक्नोलॉजी कंपनीज में काम कर सकते हैं, इस तरह यदि आप MBBS करते है तब आपके लिए कार्यक्षेत्र बहुत सारे मिल जाते है।

एमबीबीएस कोर्स कम्पलीट करने के बाद सैलरी कितना रहता है (Salary after MBBS)

आज के समय मे यदि आप MBBS करते है तब इसके बाद आपके महीने के सैलरी यदि आप प्राइवेट सेक्टर में वर्क करते है तब आपको 1 लाख तक शुरुआती दौर में मिल सकता है, वही यदि आप गवर्नमेंट सेक्टर में वर्क करते है तब आपको 1 लाख से 3 लाख तक महीने की सैलरी मिल सकता है, तथा आप स्वयं की क्लिनिक ओपन करते है तब वह आपके क्लीनिक एवं आपके टैलेंट पर निर्भर करेगा, इस तरह से आप MBBS करके अच्छा पैसे कमा सकते है।

निष्कर्ष (Full Form of MBBS in Hindi)

आज का यह पोस्ट एमबीबीएस का फुल फॉर्म क्या है (Full Form of MBBS in Hindi) में आपको पता चल गया होगा की MBBS का फुल फॉर्म Bachelor in Medicine and Bachelor in Surgery होता है। और MBBS Ka Full Form के साथ साथ आपको यह भी पता चल गया होगा की एमबीबीएस करने के लिए क्या योग्यता चाहिए, कितना उमर होना चाहिए और एमबीबीएस करने के बाद आप क्या कर सकते है। अगर आपको यह पोस्ट एमबीबीएस का फुल फॉर्म क्या होता है पसंद आई तो कमेंट और शेयर करना ना भूलें। हमरा यह पोस्ट MBBS Ka Full Form Kya Hai पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद।

यह भी पढ़े:- एलएलबी (LLB) का फुल फॉर्म क्या होता है?

Leave a Comment

error: